Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz । Here you can easily solve that topic (2023) । UPSCSITE

By | August 23, 2022

प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छी जानकारी, आसानी से प्रैक्टिस के लिए सामान्य ज्ञान आधुनिक भारतीय इतिहास Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz

यूपीएससी, राज्य पीसीएस, एनडीए, सीडीएस, सीएपीएफ परीक्षाओं में Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz से अक्सर पूछे जाने वाले व पिछले कुछ सालों के प्रश्नों का संग्रह विषयवार व टॉपिक वाइज किया गया।

Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz

64

Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz । Here you can easily solve that topic (2023) । UPSCSITE

टोटल प्रश्न - 20

समय - 10min

"All The Best"

1 / 20

421. जलियांवाला बाग हत्याकांड हुए- 46th BPSC Pre 2003

2 / 20

422. भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के दौरान, रौलेट एक्ट ने किस कारण से सार्वजनिक रोष उत्पन्न किया? IAS Pre 2009

3 / 20

423. रौलेट एक्ट लाने का क्या प्रयोजन था? JPSC Pre 2013

4 / 20

424. रौलेट एक्ट का लक्ष्य था - IAS Pre 2012

5 / 20

425. रोलेट सत्याग्रह के संदर्भ में, निम्नलिखित में से कौन-सा/से कथन सही है/हैं? IAS Pre 2015

  1. रौलेक अधिनियम, 'सेडिशन कमेटी' की सिफारिश पर आधारित था 
  2. रौलेट सत्याग्रह में, गांधीजी ने होमरूल लीग का उपयोग करने का प्रयास किया। 
  3. साइमन कमीशन का आगमन के विरुद्ध हुए  प्रदर्शन रौलेट सत्याग्रह के साथ-साथ हुए। 

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए।

6 / 20

426. जब रोलेट एक्ट पारित हुआ था, उस समय भारत का वायसराय कौन था? IAS pre 2008

7 / 20

427. 'रौलेट एक्ट' किस वायसराय के काल में पारित हुआ था? UPRO/ARO Pre 2014

8 / 20

428. अखिल भारतीय राजनीति के गांधी का पहला साहसिक कदम था - IAS Pre 1999

9 / 20

429. रौलेट एक्ट के विरोध में किसने लगान न देने का आंदोलन चलाने का सुझाव दिया था? UPPCS Mains 2008

10 / 20

430. द अनार्किकल एंड  रिवोल्यूशनरी क्राइम एक्ट, 1919 को सामान्य बोलचाल में कहा जाता था- IAS Pre 1996

11 / 20

431. कौन-सी महत्वपूर्ण घटना जलियांवाला बाग नरसंहार के तुरंत पूर्व घटी थी? UPPCS Mains 2012

12 / 20

432. जलियांवाला बाग नरसंहार की गांधीवादी सत्याग्रह के संबंध में हुआ? 64th BPSC Pre 2018

13 / 20

433. काफी संख्या में लोग अमृतसर के जलियांवाला बाग में 13 अप्रैल, 1919 को एकत्रित हुए थे, गिरफ्तारी के विरोध में- UPPCS Pre 2002

14 / 20

434. निम्नलिखित में से किसके विरोध में रविंद्रनाथ टैगोर ने अपनी 'नाइटहुड' का परित्याग कर दिया था? UPPCS Pre 2016

15 / 20

435. रविंद्रनाथ टैगोर ने अपनी 'नाइटहुड' उपाधि किस कारण त्याग दी? 65th BPSC Pre 2019

16 / 20

436. निम्न में से किसके द्वारा जलियांवाला कांड के विरोध में 'सर' की उपाधि त्यागी गई? UPPCS Mains 2012

17 / 20

437. हंटर आयोग की नियुक्ति की गई थी- IAS Pre 2001

18 / 20

438. लंदन में 13 मार्च, 1940 को सर माइकल ओ' डायर को गोली से मारा गया- BPSC Pre 2016

19 / 20

439. जलियांवाला बाग नरसंहार पर कांग्रेसी जांच समिति की रिपोर्ट के प्रारूप लिखने का कार्य सौंपा गया था- UPPCS Pre 2014

20 / 20

440. निम्नलिखित में से किसके कारण  सार्वजनिक रोष की लहर उभरी जिसके फलस्वरूप जलियांवाला बाग में ब्रिटिश द्वारा जनसंहार की घटना घटी? IAS Pre 2007

क्रमानुसार क्विज श्रृंखला में हर पिछले क्विज़ का विश्लेषण अगले क्विज के साथ संलग्न प्रकाशित कर दिया जाता हैं। और इसी क्रमानुसार Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz के पहले का क्विज विश्लेषण नीचे पढ़ सकते हैं।

Gandhian Movements Quiz Part-3 विश्लेषण

401. निम्नलिखित में से कौन कहा करते थे- “गलत साधना हमें कभी भी सही उद्देश्य तक नहीं ले जाते हैं”? UPPCS(Mains)2015

  1. सरदार पटेल 
  2. एम.के. गांधी 
  3. लाला लाजपत राय 
  4. जवाहरलाल नेहरू 

उत्तर – 2 

महात्मा गांधी कहा करते थे की “गलत साधन हमें कभी भी सही उद्देश तक नहीं ले जाते हैं”। 

402. निम्नलिखित में से कौन इस सिद्धांत के प्रबल समर्थक थे कि “जो नैतिक दृष्टिकोण से गलत है, वह राजनीतिक दृष्टिकोण से कभी सही नहीं हो सकता हैं”?UPPCS(Mains)2015 

  1. जवाहरलाल नेहरू 
  2. सरदार पटेल 
  3. एम.के. गांधी 
  4. सी. राजगोपालाचारी 

उत्तर – 3 

महात्मा गांधी राजनीतिक में नैतिक मूल्यों की स्थापना के प्रबल थे। उनका मानना था कि नैतिकताविहीन राजनीति राज्य को गर्त में मिला सकती है। वे मानते थे कि जो नैतिक दृष्टिकोण से गलत है, वह राजनीतिक दृष्टिकोण से कभी सही नहीं हो सकता है। इसलिए  गांधीजी के बारे में कहा जाता है कि वे राजनीतिज्ञों में संत थे और संतो में राजनीतिज्ञ थे। 

403. महात्मा गांधी ने भारत में अपना पहला जनभाषण कहां दिया था? UPPCS(Mains)2015 

  1. बंबई में 
  2. लखनऊ में 
  3. चंपारन में 
  4. वाराणसी में 

उत्तर – 4 

महात्मा गांधी ने भारत मे अपना पहला जनभषण फरवरी, 1916 में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के उदघाटन समारोह के अवसर पर दिया था। 

404. गांधीजी के ट्रस्टीशिप के सिद्धांत के प्रतिपाध के संबंध में निम्नलिखित युग्म में से कौन-सा एक सही है? UP Lower Sub(Mains)2013

  1. दक्षिण अफ्रीका-1930 
  2. लंदन-1940 
  3. दिल्ली-1905  
  4. अहमदाबाद-1906 

उत्तर – 1  

गांधीजी ने वर्ष 1903 में जोहॉन्सबर्ग में अपनी लॉ फर्म स्थापित की थी जहां वे वर्ष 1910 तक रहे। गांधीजी ने अपनी लॉ फर्म में ट्रस्टीशिप के सिद्धांतों को लागू किया था। विकल्प में दिए गए अन्य शहरों के साथ जो वर्ष दिए गए हैं उन वर्षों के दौरान गांधीजी जोहॉन्सबर्ग में ही थे। 

405. गांधीवादी अर्थव्यवस्था के विषय में निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा एक सही नहीं है?UP Lower Sub(Mains)2013 

  1. वे अहिंसा पर आधारित अर्थव्यवस्था पर बल देते थे। 
  2. केंद्रीकरण शोषण और असमानता को जन्म देता है, अतएव अहिंसक सामाजिक संरचना केंद्रीकरण विरोधी है। 
  3. वे भारत में मशीनीकरण के पक्षधर नहीं थे। 
  4. वे यू.एस.ए में मशीनीकरण के पक्षधर नहीं थे।  

उत्तर – 4 

गांधीजी का विचार था कि प्रत्येक देश की अर्थव्यवस्था, वहां कि जलवायु, भूमि तथा वहां के निवासियों निवासियों के स्वभाव को ध्यान में रखते हुए निश्चित की जानी चाहिए और इन बातों के आधार पर जहां तक अमेरिका का संबंध है उन्होंने वहां के मशीनीकरण का विरोध नहीं किया था। जबकि विकल्प (a),(b) तथा (c) का समर्थन गांधीजी करते थे। 

Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz

406. एम.के. गांधी के अनुसार, अस्पृश्यों का सामाजिक-आर्थिक सुधार संपन्न किया जा सकता है-UP Lower Sub(Mains)2013 

  1. उनके मंदिर प्रवेश द्वारा 
  2. उनको सहायता प्रदान करके 
  3. उनके सामाजिक-आर्थिक विकास हेतु कोष अलग करके 
  4. उनके लिए कुटीर उद्योग स्थापित करके 

उत्तर – 4 

गांधीजी की अर्थनीति सभी तरह के शोषण का विरोध करती है चाहे वह शोषण देश के भीतर एक वर्ग दूसरे वर्ग का हो या बाहर से हो। गांधीजी इसको दूर करने के लिए ऐसी प्रणाली कायम करना चाहते थे, जिसमे व्यक्ति अपने मौलिक प्रयत्न के द्वारा स्वतंत्र वातावरण में श्रम और कार्य कर सकें, इसके लिए वे स्वदेशी उद्योगो का पुनरुध्दार करना चाहते थे ताकि लोगों को पर्याप्त भोजन मिल सके और वे भूख से पीड़ित न हो। इसके लिए गांधीजी ने कुटीर उधोगों जैसे-गुड़ बनाना, घास कूटना, तेल पेरना, कागज बनाना, चमड़े का काम आदि पर जोर दिया। इससे गांधीजी का मानना था कि गरीबों और शोषित का आर्थिक और सामाजिक सुधार करने में मदद मिलेगी। 

407. ‘गांधियन इनोवेशन’ (गांधीजी का नवाचार) का तात्पर्य है- UP Lower Sub(Mains)2015 

  1. अधिक उत्पादन से 
  2. घरेलू अर्थव्यवस्था में अधिक उत्पादन से 
  3. उपभोग के लिए उत्पादन से 
  4. कम निवेश से अधिक उत्पादन अधिक लोगों के लिए 

उत्तर – 4 

‘गांधियन इनोवेशन’ (गांधीजी का नवाचार) का तात्पर्य है ‘कम निवेश से अधिक उत्पादन अधिक लोगों के लिए’। यह शब्दावली सर्वप्रथम प्रोफेसर प्रह्लाद एवं आर.ए. माशेलकर द्वारा प्रयोग किया गया था। 

408. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए- IAS(Pre)2010 

  1. डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने महात्मा गांधी को चंपारण आने तथा कृषकों की समस्या की जांच करने के लिए राजी किया। 
  2. चंपारन जांच में आचार्य जे.बी. कृपलानी महात्मा गांधी के सहयोग में से एक थे। 

ऊपर दिए गए कथनों में कौन-सा/से सही हैं? 

  1. केवल 1 
  2. केवल 2 
  3. 1 और 2 दोनों 
  4. न तो 1 और न ही 2 

उत्तर – 2 

महात्मा गांधी को चंपारण आने तथा कृषकों की समस्या की जांच करने के लिए पं. राजकुमार शुक्ला ने राजी किया था तथा चंपारण समस्या की जांच में गांधीजी के सहयोगियों ने आचार्य जे.बी. कृपलानी के साथ डॉ. राजेंद्र प्रसाद, महादेव देसाई, सी.एफ.एंडूज, डॉ. अनुग्रह नारायण सिन्हा, राज किशोर प्रसाद, एच.एफ. पोलक इत्यादि शामिल थे।

409. भारत में नियोजित विकास का विरोध किसने किया?UPPCS(Pre)2019 

  1. महात्मा गांधी 
  2. जवाहरलाल नेहरू 
  3. इंदिरा गांधी 
  4. राजीव गांधी 

उत्तर – 1 

प्रश्नगत विकल्पों में भारत में नियोजित विकास का विरोध महात्मा गांधी ने किया था। गांधीजी वस्तुतः औद्योगिकरण और मशीनीकरण के विरोध थे। उन्होंने कुटील और ग्रामीण उद्योगों का समर्थन करने के बाद ग्राम को अर्थव्यवस्था की आधारभूत इकाई माना। उन्होंने मशीनों के प्रयोग के स्थान पर श्रमपरक उधमों को अधिक महत्व दिया ताकि अधिकाधिक लोगों को रोजगार मिल सके। उनकी ग्राम स्वराज की अवधारणा के तहत ग्राम ऐसी इकाई थे, जहां के निवासियों की सभी आवश्यकताएं वहीं के उत्पादों से पूरी हो सकें। 

410. चंपारण आंदोलन से कौन संबंधित नहीं था? BPSC(Pre)1997

  1. राजेंद्र प्रसाद 
  2. अनुग्रह नारायण सिन्हा 
  3. जे.बी. कृपलानी 
  4. जयप्रकाश नारायण 

उत्तर – 4

चंपारण आंदोलन (1917) में गांधीजी का साथ राजेंद्र प्रसाद, अनुग्रह नारायण सिन्हा, जे.बी. कृपलानी, महादेव देसाई, नरहरि पारेख आदि ने दिया था। जयप्रकाश नारायण चंपारण आंदोलन से संबंधित नहीं थे।

Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz

411. चंपारण कृषिय जांच समिति का सदस्य निम्नलिखित में से कौन नहीं था? RO/ARO(Pre)2017 

  1. एफ.जी. स्लाई 
  2. डी.जे. रीड 
  3. अनुग्रह नारायण 
  4. महात्मा गांधी 

उत्तर – 3 

चंपारण कृषय जांच समिति के अध्यक्ष एफ.जी  स्लाई थे। इसके सदस्य थे- डी. जे. रीड, महात्मा गांधी, एल.सी. आदमी, राजा हरिप्रसाद नारायण सिंह और जी. रैनी। जबकि एम.ई.एल. टैननर सचिव थे। 

412. दक्षिण अफ्रीका में लौटने का पश्चात गांधीजी ने प्रथम सफल सत्यागर (Satyagraha) आरंभ किया- IAS(Pre)2000 

  1. चौरी-चौरा में 
  2. डांडी में 
  3. चंपारण में 
  4. बारदोली में 

उत्तर – 3 

दक्षिण अफ्रीका से जनवरी, 1915 में लौटने के बाद गांधीजी ने अपना प्रथम सफल सत्याग्रह बिहार के चंपारण जिले में वर्ष 1917 में किया। वर्ष 1917 में चंपारण के एक किसान राजकुमार शुक्ल ने गांधीजी से लखनऊ में भेंट की और उन्हें चंपारन आने का आग्रह किया। चंपारन का मामला बहुत पुराना था। 19वीं सदी के समाप्त होते-होते जर्मनी के रासायनिक रंगों ने बाजार में नील का स्थान ले लिया। फलस्वरूप चंपारन के यूरोपीय बागान मालिक नील की खेती बंद करने के लिए विवश हो गए।

किसान भी नील की खेती से छुटकारा पाना चाहते थे। गोरे बगान मालिकों ने किसानों की मजबूरी की फायदा उठाकर उन्हें अनुबंध से मुक्त करने के लिए लगान एवं अन्य गैर अबवाबो (करों) की दर मनमाने ढंग से बढ़ा दी। किसानों के इसी उत्पीड़न के विरोध में गांधीजी ने चंपारण सत्याग्रह प्रारंभ किया था। 

413. महात्मा गांधी ने सर्वप्रथम किस किसान आंदोलन में भाग लिया? BPSC(Pre)1997 

  1. खेड़ा 
  2. चंपारण 
  3. बारदोली 
  4. बारोडा 

उत्तर – 2 

414. निम्नलिखित स्थानों में से कहां महात्मा गांधी ने भारत में सर्वप्रथम सत्याग्रह प्रारंभ किया? IAS(Pre)2007

  1. अहमदाबाद 
  2. बारदोली 
  3. चंपारण 
  4. खेड़ा 

उत्तर – 3 

415. बिहार में कौन-से स्थान में गांधीजी ने अपना प्रथम सत्याग्रह किया था? BPSC(Pre)2015 

  1. चंपारण 
  2. छपरा 
  3. बेतिया 
  4. पटना 

उत्तर – 1 

Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz

416. निम्नलिखित कथनों में से किसने नील की खेती को संबंध में चंपारन में महात्मा गांधी को आमंत्रित किया था- UPPCS(Mains)2016 

  1. जे.बी. कृपलानी 
  2. राजेंद्र प्रसाद 
  3. राजकुमार शुक्ला 
  4. मोतीलाल नेहरू 

उत्तर – 3 

417.निम्नलिखित कथनों में से फोन चंपारण सत्याग्रह के संबंध में सही नहीं है? UPPCS(Mains)2011 

  1. यह किसानों से जुड़ा था। 
  2. इसे ‘तिनकठिया प्रथा’ के विरुद्ध संचालित किया गया था। 
  3. डॉ. राजेंद्र प्रसाद तथा जे.बी. कृपलानी ने इनमें एम.के. गांधी को सहयोग दिया था। 
  4. यह प्रथम आंदोलन था जिसे एम.के. गांधी ने संपूर्ण भारत के स्तर पर आरंभ किया था। 

उत्तर – 4 

चंपारन सत्याग्रह मात्र चंपारन तक ही सीमित था तथा वह प्रथम आंदोलन जिसे गांधीजी ने राष्ट्रीय स्तर पर प्रारंभ किया था, रौलेट सत्याग्रह (1919) था। चंपारन सत्याग्रह के संबंध में प्रथम तीनों कथन सही हैं। 

418. चंपारन नील आंदोलन के राष्ट्रीय नेता कौन थे? BPSC(Pre)2008 

  1. महात्मा गांधी 
  2. बिरसा मुंडा 
  3. बाबा रामचंद्र 
  4. राम सिंह 

उत्तर – 1 

चंपारन नील आंदोलन के राष्ट्रीय नेता महात्मा गांधी थे। वर्ष 1917 में चंपारण में नील की खेती करने वाले किसानों के प्रति यूरोपियन बागान मालिकों के अत्याचारों के विरोध में गांधीजी द्वारा प्रथम सत्याग्रह किया गया। इस आंदोलन में गांधीजी के सहयोगी राजेंद्र प्रसाद, बृजकिशोर, महादेव देसाई, नरहरी पारिख तक जे.बी. कृपलानी आदि थे। 

419. महात्मा गांधी के चंपारण सत्याग्रह का किसने विरोध किया था? UPPCS(Mains)2007 

  1. रविंद्रनाथ टैगोर 
  2. एन.जी. रंगा 
  3. राजकुमार शुक्ला 
  4. राजेंद्र प्रसाद 

उत्तर – 2 

एन.जी. रंगा ने महात्मा गांधी के चंपारण सत्याग्रह का विरोध किया था; जबकि रविंद्रनाथ टैगोर ने चंपारण सत्याग्रह के दौरान हीं इन्हें ‘महात्मा’ की उपाधि दी थी। 

420. खेड़ा के किसानों के पक्ष में महात्मा गांधी के सत्याग्रह संघटित करने का क्या कारण था? IAS(Pre)2011 

  1. अकाल पड़ने के बावजूद प्रशासन ने भू-राजस्व की उगाही स्थगित नहीं की थी? 
  2. प्रशासन का यह प्रस्ताव था कि गुजरात में स्थगित  बंदोबस्त लागू कर दिया जाए। 

उपर्युक्त में कौन-सा/कौन-से कथन सही है/हैं? 

  1. केवल 1 
  2. केवल 2 
  3. 1 और 2 दोनों 
  4. न तो 1 और न ही 2 

उत्तर – 1  

वर्ष 1918 में गुजरात के खेड़ा में किसानों की फसल नष्ट हो जाने के बाद भी सरकार ने लगान में छूट नहीं दी थी और भू-राजस्व उगाही स्थगित नहीं की थी। इसी मुद्दे पर महात्मा गांधी ने खेड़ा के किसानों के पक्ष में सत्याग्रह संघटित किया था। खेड़ा आंदोलन प्लेग फैलने और अकाल पड़ने के कारण किसानों के लगाने अदा करने में असमर्थ और राज्य के प्रति उनमे असंतोष होने के परिणामस्वरुप हुआ था। इस प्रकार कथन 1 सही है जबकि कथन 2 सही नहीं है।

Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz

For any query regarding UPSC, test series, subjectwise mock test. You can comment in the comment section below or send your query to email address.

Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz का विश्लेषण अगले क्विज़ के संलग्न प्रकाशित किया जाएगा।

Previous Test Link :-

Join Telegram Channel –Link
Join Whatsapp Group –Link
UPSC Doubt Discussion Group –Join us
Rowlatt-Act Aur Jallianwala-Bagh Massacre Quiz

For getting all UPSCSITE, subject wise mcq series, test series 2022 & government job notification visit our website regularly. Type always google search upscsite.in

Leave a Reply

Your email address will not be published.